Google play store पर ऐप बनाकर ट्रक बुकिंग के नाम पर कर रहे थे धोखाधड़ी, 25 लाख रुपये की ठगी आरोपियों ने की स्वीकार

google-play-store

भिंड की बैंक शाखा में खोल रखा था फर्जी बैंक अकाउंट

छत्तीसगढ़ के युवक की शिकायत पर मामला दर्ज कर पुलिस ने गिरफ्तार किया उत्तर प्रदेश के तीन युवकों को

Bhind MP: मध्यप्रदेश की भिण्ड पुलिस ने ऑनलाइन ट्रक बुकिंग ऐप के माध्यम से ठगी करने वाले अंतर्राज्यीय गिरोह को पकड़ने में सफलता प्राप्त की है। ट्रक बुकिंग के नाम पर लोगों से ऑनलाइन ठगी करने वाले गिरोह के सदस्यों ने 25 लाख रुपये से ज्यादा की ठगी करने की बात कबूल की है।

Also Read : एक NEWS जो उसके मन में छप गई और बन गई…

दरअसल भिलाई निवासी फरियादी पृथ्वीराज सिंह की रिपोर्ट पर थाना देहात में अज्ञात लोगों के खिलाफ धारा 420, 34 के तहत मामला दर्ज कर मामले की जांच शुरू की गई। चूंकि मामला सायबर क्राइम से जुड़ा था इसलिए पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सिंह ने इसको गंभीरता से लेते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कमलेश कुमार खरपुसे के नेतृत्व में साइबर सेल को मामले की तह तक जाने की जिम्मेदारी सौंपी। पुलिस द्वारा जांच के बाद तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है जबकि उनके तीन अन्य साथियों की तलाश जारी है। आरोपियों से पूछताछ में उन्होंने करीब 40-50 से ज्यादा व्यक्तियों के साथ ठगी करना स्वीकार किया है।

दरअसल आरोपियों द्वारा गूगल प्ले स्टोर पर वाहक ट्रांसपोर्ट मार्केट नामक एप का इस्तेमाल कर खुद को ट्रांसपोटर के तौर पर रजिस्टर्ड करते थे। जब कोई व्यक्ति एप के माध्यम से गाड़ी की तलाश करता था तो उसकी जानकारी आरोपीगणों तक पहुँच जाती थी। जिसके बाद यह लोग ग्राहक को फोन कर गाड़ी भेजने के नाम पर एडवांस में पैसा लेते थे और किसी अन्य ट्रांसपोर्टर का वाहन भिजवा देते थे। यह ग्राहक से तो पूरी रकम ऐंठ लेते थे जबकि वास्तविक ट्रांसपोटर के पास पैसा नहीं पहुंचाते थे ऐसे में वास्तविक वाहन मालिक रास्ते मे वाहन रोककर रुपये मांगता और ना देने पर वाहन को आगे ले जाने से मना कर देता था। जिसके बाद फरियादी को पता चलता था कि उसके साथ धोखाधड़ी हो गई है।ताजा मामले में भिलाई निवासी फरियादी प्रथ्वी सिंह से 85 हजार की ठगी हुई। पकड़े गए आरोपी उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं जो भिंड में फर्जी पते पर फर्जी बैंक अकाउंट खोलकर ठगी को अंजाम दे रहे थे। जिसके आधार पर भिण्ड पुलिस के द्वारा मामला दर्ज कर तीन आरोपियों को गिरप्तार किया गया। पूछताछ में आरोपियों ने 25 लाख की ठगी करना स्वीकार किया है। आरोपियों के कब्जे से मोबाइल सहित अन्य सामग्री भी जप्त की गई है। शेष तीन आरोपियों की तलाश पुलिस द्वारा की जा रही है।

बाइट : कमलेश कुमार एएसपी भिंड

बाइट : प्रथ्वी सिंह फरियादी भिलाई।