Byelections in MP: उपचुनाव वाले क्षेत्रों में जनदर्शन करेंगे CM, 12 को रैगांव पहुंचेंगे

खंडवा में हुए हैं अब तक सबसे अधिक दौरे, जोबट, पृथ्वीपुर में तय होना है कार्यक्रम

भोपाल: नवरात्र के बाद प्रदेश में खंडवा लोकसभा और तीन विधानसभा उपचुनाव की संभावना के मद्देनजर भाजपा ने इन क्षेत्रों में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) के दौरे की प्लानिंग तेज कर दी है। इस बीच पार्टी द्वारा जिन संगठन पदाधिकारियों और मंत्रियों को विधानसभा वार जिम्मेदारी सौंपी गई है, वे उन क्षेत्रों में पहुंचकर दो से अधिक दौर की बैठकें कर चुके हैं।

CM शिवराज का ताजा दौरा 12 सितम्बर को रैगांव विधानसभा क्षेत्र में संभावित है। यहां वे ग्रामीण इलाकों में जनदर्शन के लिए निकलेंगे। पार्टी इसी तरह की रणनीति बाकी विधानसभा क्षेत्रों में भी अपनाने की तैयारी में है।

मुख्यमंत्री रविवार को सतना जिले के रैगांव विधानसभा क्षेत्र में जनता के बीच रहेंगे। इसको लेकर सतना में पार्टी नेताओं और सुरक्षा कारणों के मद्देनजर प्रशासनिक अधिकारियों ने तैयारियां शुूरू कर दी हैं। अब तक सीएम के दौरे को लेकर जो प्लानिंग सामने आई है, उसके मुताबिक वे सतना पहुंचने के बाद रैगांव विधानसभा के शिवराजपुर गांव तक हेलिकाप्टर से जाएंगे। इसके उपरांत वहां जनदर्शन और आमसभा करेंगे। इसके बाद ग्राम द्वारी, बिलौंधा, पिपरी, देवरी, आमा, नोनगरा, पनगरा, रौंड़, नारायणपुर में जनदर्शन कार्यक्रम में शामिल होंगे। इसके बाद सिंहपुर में भूमिपूजन व शिलान्यास कार्यक्रम में शामिल होंगे। इस विधानसभा क्षेत्र से पूर्व मंत्री जुगुल किशोर बागरी विधायक थे जिनके निधन के बाद सीट खाली हुई है।

पार्टी सूत्र बताते हैं कि सीएम चौहान का दौरा पूर्व में दो दिन तक चले वैक्सीनेशन महाभियान के बीच भी तय हुआ था लेकिन बाद में टल गया।

अब तक खंडवा में सबसे अधिक दौरे
सीएम चौहान अब तक लोकसभा खंडवा में पूर्व सांसद नंदकुमार सिंह चौहान के निधन के बाद रिक्त हुई सीट पर सर्वाधिक दौरे पिछले छह माह में कर चुके हैं। अब चूंकि कोरोना तीसरी लहर के संभावना न होने पर त्यौहारों के बाद चुनाव आयोग कभी भी प्रदेश में चार उपचुनावों के लिए ऐलान कर सकता है, इसलिए पार्टी ने जिला अध्यक्षों को निवाड़ी और जोबट विधानसभा सीट पर भी सीएम के दौरे की प्लानिंग के निर्देश दिए हैं। इसके लिए कार्यक्रम प्रस्तावित होने के बाद सीएम से समय लेकर दौरे फाइनल किए जाएंगे।

योजनाओं के हितग्राहियों पर फोकस
भाजपा उपचुनाव के लिए छोटे तबके के उन परिवारों पर ज्यादा फोकस कर रही है जिन्हें प्रधानमंत्री आवास योजना, आयुष्मान कार्ड, फ्री राशन के अलावा अलग-अलग कैटेगरी में दी जाने वाली छात्रवृत्ति, रोजगार और अन्य योजनाओं का सीधा लाभ मिल रहा है। ऐसे हितग्राहियों से पार्टी के कार्यकर्ता सीधा संवाद कर भाजपा सरकार की खूबियां गिना रहे हैं।